मनोज मुंतशिर ने शिक्षा के क्षेत्र में गिरते हिंदी के स्तर पर उठाए सवाल

गीतकार मनोज मुंतशिर जो बॉलीवुड की फिल्मों में अपने गानों और अपने हिंदी प्रेम के लिए बेहतरीन तरीके से जाने जाते हैं।
 
मनोज मुंतशिर ने शिक्षा के क्षेत्र में गिरते हिंदी के स्तर पर उठाए सवाल।

गीतकार मनोज मुंतशिर जो बॉलीवुड की फिल्मों में अपने गानों और अपने हिंदी प्रेम के लिए बेहतरीन तरीके से जाने जाते हैं। मनोज द्वारा लिखे गाने, शायरी, कविता और नज्मों को बहुत पसंद किया जाता है। मनोज बॉलीवुड के गीतों को लिखने के साथ-साथ अपने द्वारा यूट्यूब चैनल भी चलाते हैं जिसके जरिए वह भारत के कई कवि, शायर, साहित्यकार और गीतकार की जिंदगियों और उनकी कहानियों को बताते नजर आते हैं।

इसी बीच हिंदी के लिए अपने प्यार और देश की आनेवाली पीढ़ियों के लिए जरूरी बताते हुए मनोज ने एक ट्वीट किया् मनोज के मुताबिक बच्चों को पढ़ाई जानेवाली किताबी हिंदी भाषा को ठीक ढंग से पेश किया जाना चाहिए जिससे उन्हें हिंदी भाषा पर पकड़ मिले और वो पसंद करें। इसी के साथ मनोज ने इंग्लिश भाषा की गुलामी पर भी गंभीरता जताई और इस ट्वीट के जरिए अपनी बात रखी।

और भी पड़ें: सोनम कपूर ने शेयर किए कुछ अनसीन पिक्चर्स

दरअसल एक पत्रकार ने ट्विटर पर बच्चों को पढ़ाई जानेवाली एक हिंदी की कविता को‌ शेयर किया जिसमें कोई कहानी और भाव को नहीं पेश किया गया सिर्फ शब्दों को जोड़कर कविता पेश की गई। और इसी कविता को पत्रकार ने ट्वीट करते हुए बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी को भी टैग किया। और लिखा,' ये NCERT यानि नैशनल काउन्सिल ऑफ़ एजुकेशनल रीसर्च एंड ट्रेनिंग के द्वारा अप्रूव की गई क्लास 1 की हिंदी के सिलेबस की एक कविता है...मैंने बच्चों को पढ़ाई जाने वाली इससे घटिया कविता नहीं पढ़ी... '

और पत्रकार के इसी ट्वीट पर मनोज ने रिट्वीट करते हुए लिखा,' अगर बच्चों को पढ़ायी जाने वाली भाषा का स्तर ये है, तो अगले सौ साल अंग्रेज़ी की ग़ुलामी करने को तय्यार रहिए. कक्षा एक की कविता सरल और सहज होनी चाहिए, मूर्खतापूर्ण नहीं!' इस तरह से मनोज अपनी बात रखते दिखे।