गहना वशिष्ठ को पोर्नोग्राफी केस में सुप्रीम कोर्ट से मिली अंतरिम बेल

 एक्ट्रेस गहना वशिष्ठ को पोर्नोग्राफी केस में सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम बेल मिल गयी है।
 
गहना वशिष्ठ को पोर्नोग्राफी केस में सुप्रीम कोर्ट से मिली अंतरिम बेल

 एक्ट्रेस गहना वशिष्ठ को पोर्नोग्राफी केस में सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम बेल मिल गयी है। उसके पश्चात् वह मुंबई क्राइम ब्रांच के प्रॉपर्टी सेल में अपना स्टेटमेंट रिकॉर्ड करने पहुंची और यहाँ उन्होंने मीडिया को अपनी स्टेटमेंट दी। मीडिया से बात करते हुए गहना ने कहा, "मैं यहाँ अपना स्टेटमेंट रिकॉर्ड करने आयी हूँ जो काफी समय से पेंडिंग था। मुझे झूठे केस में फंसाया जा रहा था क्योंकि मैं जनता के सामने सच लेकर आ रही थी। यह पूरी तरह से झूठा केस था लेकिन अब मुझे आराम मिला है क्यूंकि सुप्रीम कोर्ट ने मुझे अंतरिम बेल ग्रांट की है। जल्दी ही मैं आशा करती हूँ मुझे एंटीसिपेटरी बेल भी मिल जाएगी। “उन्होंने आगे कहा, "मेरे पास रॉ फुटेज है और NOC वीडियो है जो प्रूव करेंगे मेरे पर लगाए इल्जाम झूठे है। सीबीआई के पास भी यह वीडियो है। जिस लड़की ने मेरे खिलाफ केस दर्ज किया था उसने 4 और डायरेक्टर के खिलाफ केस किया है। "

Must Read पुरस्कार विजेता अभिनेत्री और गायिका अल्फीया डोना ने अपनी ड्रीम कार मर्सिडीज-बेंज खरीदी।

राज कुंद्रा को उनके सपोर्ट के बारे में बात करते हुए गहना ने कहा, "मैं अभी राज कुंद्रा को लेकर कुछ कमेंट नहीं करना चाहूंगी। लेकिन इतना जरूर क्लेरिफाई करुँगी जो भी फिल्में हमने बनायीं थी , वह एरोटिक और बोल्ड थी, कोई भी पोर्न केटेगरी में नहीं आती है। “उन्होंने आगे कहा, "उन फिल्मों में ऐसा कुछ नहीं था जिसकी वजह से उन्हें पोर्न का दर्जा दिया जा रहा है। इसके साथ साथ, डिजिटल प्लेटफार्म पर अभी सेंसर की जरुरत नहीं होती। अगर कोई परमिशन नहीं चाहिए, फिर किस हिसाब से यह केस किया गया है। लड़कियों को ब्लैकमेल करके उनसे जबरदस्ती केस करवाया गया है क्यूंकि अगर वह विक्टिम न बनती तो उन्हें एक्यूस बना देते। गहना इन लड़कियों के खिलाफ दर्ज करना चाहती है। उन्होंने कहा"जिस जिस ने मेरे खिलाफ यह झूठा केस दर्ज किया था और आज सेलिब्रेट कर रहे है ,मैं उन्हें बताना चाहती हूँ मैं अंत तक लड़ूंगी और सच को बाहर लेकर आउंगी। मैं उन लड़कियों के खिलाफ डेफ़मेशन केस भी दर्ज करुँगी। "

Disclaimer: This post has been auto-published from an agency news helpline feed without any modifications to the text and has not been reviewed by an editor