'कार्टेल शो में हर किरदार को बहुत अच्छे से रचा गया है ' , अमेय वाघ

अमेय को लोगों ने असुर शो में बहुत पसंद किया था और उसके बाद वह अब कार्टेल शो में नजर आने वाले है।
 
'कार्टेल शो में हर किरदार को बहुत अच्छे से रचा गया है ' , अमेय वाघ

ऑल्ट बालाजी का शो 'कार्टेल' को लेकर काफी चर्चा हो रही है। शो में 138 आर्टिस्ट है जिसमे सुप्रिया पाठक, रित्विक धनजानी,तनुज विरवानी, प्रणति राय प्रकाश, अमेय वाघ, दिव्या अग्रवाल मौजूद है। अमेय वाघ ने शो को लेकर की न्यूज़ हेल्पलाइन से बात चीत ;अमेय को लोगों ने असुर शो में बहुत पसंद किया था और उसके बाद वह अब कार्टेल शो में नजर आने वाले है। शो के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "मुझे असुर के बाद काफी अच्छा रिस्पांस मिला था। लोगों ने मुझे उस रोल में बहुत पसंद किया था और मैं खुद हैरान था लोगों ने मुझे नेगेटिव अवतार में एक्सेप्ट किया। कार्टेल शो एक बहुत बड़ा शो है जिसमें 138 आर्टिस्ट है। इसमें काफी उम्दा कलाकार है। इतने बड़े शो और इतने बड़े लाइन अप के साथ मेरा नाम एसोसिएट हो रहा है मैं इसको लेकर बहुत खुश हूँ। "शो का बेस मराठी है और मैं इसके लिए बहुत उत्साहित हूँ क्यूंकि मैं खुद एक महाराष्ट्रीयन हूँ। “

Must Read कंगना रनौत ने अक्षय कुमार की फिल्म "बेल बॉटम" को कहा ब्लॉकबस्टर

शो में अपने किरदार के बारे में बात करते हुए अमेय ने कहा, "मैं शो में धवल जाधव के रोल में नजर आऊंगा जो एक एनवायर्नमेंटल एक्टिविस्ट है। धीरे धीरे उसका ध्यान भी पॉलिटिक्स की तरफ आकर्षित होता है। अब वह कैसे अपने सपनो को पूरा करता है , इसका जवाब तो ऑडियंस को शो देखकर ही पता चलेगा। “इतने बड़े बड़े एक्टर के साथ काम करने पर क्या प्रेशर बढ़ा, इसपर बात करते हुए अमेय ने कहा, "अगर शो स्क्रिप्ट लेवल पर ही इतना अच्छा हो तो एक्टर की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। हमे शो को अब अगले लेवल तक ले जाना होता है। इतने दिग्गज कलाकार के साथ काम करने पर प्रेशर तो बढ़ता है लेकिन अगर आप अपने किरदार के साथ ईमानदार रहो तो सब अपने आप हो जाता है। उन्होंने इस शो को क्या सोचकर हाँ कहा, इसपर बात करते हुए उन्होंने कहा,"इस शो को ना कहने का मेरा पास एक भी रीज़न नहीं था और हाँ कहने के लिए कई रीज़न थे। यह शो एकता कपूर का पैशनेट प्रोजेक्ट है इस वजह से इसमें कुछ तो ख़ास होना ही था। बाद में जब मैंने स्क्रिप्ट पढ़ी तो मैं पगला गया। शो कार्टेल में हर किरदार को बहुत अच्छे से रचा गया है।"

Disclaimer: This post has been auto-published from an agency news helpline feed without any modifications to the text and has not been reviewed by an editor